Breaking News


Warning: sprintf(): Too few arguments in /var/www/sansani.tv/data/www/sansani.tv/wp-content/themes/newsreaders/assets/lib/breadcrumbs/breadcrumbs.php on line 252

कोरोना के बीच महाराष्ट्र सरकार ने 30 नवंबर तक के लिए बढ़ाया लॉकडाउन, यहां जानें जरूरी बातें

देश में लगातार कोरोना महामारी कमजोर पड़ती जा रही है। इसकी वजह है लोगों की ओर से दिशा-निर्देशों का पालन किया जाना। वहीं, महाराष्ट्र सरकार ने स्थितियों को देखते हुए 30 नवंबर तक लॉकडाउन बढ़ा दिया है।

कोरोना महामारी (Coronavirus Latest News Maharashtra) के बीच स्थितियों को देखते हुए गाइडलाइंस (Covid-19 Guidelines) पर निर्णय लिया जा रहा है। महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने 30 नवंबर तक के लिए फिर से लॉकडाउन (Lockdown in Maharashtra News) बढ़ा दिया है। गुरुवार को राज्य सरकार की ओर से यह फैसला किया गया है।

कोविड-19 के प्रसार को रोकने के प्रयास के तहत महाराष्ट्र सरकार ने सरकारी रेल पुलिस (जीआरपी) को लोकल ट्रेन में और स्टेशन पर बिना मास्क लगाए, चलने वाले लोगों पर जुर्माना करने का निर्देश दिया है। यह जानकारी गुरुवार को एक अधिकारी ने दी। जीआरपी के आयुक्त रवींद्र शेनगांवकर को लिखे पत्र में राज्य आपदा प्रबंधन विभाग के निदेशक अभय यावलकर ने कहा है कि ग्रेटर मुंबई नगर निगम (एमसीजीएम) की ओर से नौ सितंबर या इसके बाद नगर निकाय की तरफ से जारी परिपत्र के मुताबिक जुर्माना किया जाए। एमसीजीएम वर्तमान में सार्वजनिक स्थानों पर बिना मास्क लगाए लोगों पर 200 रुपये का जुर्माना करता है।

महाराष्ट्र में कोरोना का क्या हाल?
महाराष्ट्र में कोरोना के बढ़ते आंकड़ों ने राज्य के साथ-साथ केंद्र सरकार के भी होश फाख्ता कर दिए हैं। राज्य में कोरोना संक्रमण के 6 हजार 738 नए मामलों के साथ बुधवार को कुल संक्रमितों की संख्या 16 लाख 60 हजार 766 पहुंच गई। राज्य में 1 लाख 30 हजार 286 ऐक्टिव केस हैं। बुधवार को प्राप्त जानकारी के मुताबिक, राज्य में कोरोना से 91 और मरीजों की मौत हो गई। अब राज्य में कुल मृतकों की संख्या 43 हजार 554 पहुंच गई है।

‘जरूरी है कि प्रोटोकॉल का पालन हो’
यावलकर ने पत्र में कहा, ‘राज्य सरकार सरकारी रेल पुलिस को अधिकार देती है कि वह लोकल ट्रेनों या स्टेशन परिसर के अंदर बिना मास्क पहने लोगों पर जुर्माना कर सकती है।’ पत्र में कहा गया है कि कोविड-19 मामलों के प्रसार को रोकने के लिए यह आवश्यक है कि यात्री सभी संबंधित प्रोटोकॉल का पालन करें। शेनगांवकर ने कहा कि बुधवार की शाम को उन्हें पत्र मिला और एमसीजीएम के साथ मिलकर हम निर्देश को लागू करेंगे। महाराष्ट्र की उद्धव सरकार ने 5 अक्टूबर से पूरे राज्य में बार और रेस्ट्रॉन्ट खोलने की भी परमिशन दे दी थी। इसके बाद बार और रेस्ट्रॉन्ट को 50 प्रतिशत क्षमता के साथ शुरू कर दिया गया था। राज्य में महामारी को देखते हुए फिलहाल स्कूल और कॉलेजों को बंद रखा गया। वहीं, उद्धव सरकार की ओर से मंगलवार को सेंट्रल रेलवे के साथ-साथ पश्चिम रेलवे को पत्र लिखकर लोकल ट्रेनों को शुरू करने का अनुरोध किया गया है।

प्रातिक्रिया दे

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *